बराक ओबामा का मंगलपरिणय / Barack Obama's wedding



अमेरिका के हार्वर्ड महाविद्यालय में पढ़ते समय ओबामा कुछ दिन के लिए शिकागो चले गए। उन्होंने सिडने एंड ऑस्टिन इस संस्था में इंटर्नशिप चालू किया। इस संस्था में मिशेल वकील थी। ओबामा को इंटर्नशिप एक महा में पूरी करनी थी। और इंटर्नशिप में ओबमा को दिलचस्बी नहीं थी। लेकिन मिशेल का एक महा तक पढ़ना और साथ में बातें करना इस कारण ओबामा को इंटर्नशिप करने में मजा आने लगा पढ़ाई करते समय मिशेल से ओबामा बहुत बातें करते थे दोनों एकदूसरे को पहचानने लगे एक दिन ओबामा ने मिशेल को फिल्म देखने के लिए और खाने पर बुलाया और मिशेल ने वह निमंत्रण स्वीकार किया


मिशेल गरीबी में ही पली-बड़ी थी। उसके पिताजी फ्रेझर रॉबिन्सन पेट्रोल पंप पर काम करते थे। उसकी मम्मी मरियन, यह सभी परिवार के साथ शिकागो में रहते थे। शिकागो के छोटे से गल्ली में बहुत ही भीड़ में उनका मकान था। पिताजी के मोलमजुरी पर उनका घर चलता था। घर में मनोरंजन के लिए एक टीव्ही थी जो हर समय बिघड ही जाती थी। इसके कारण मिशेल को टी.व्ही देखने के बजाय पढ़ने को अच्छा लगता था। मोलमजुरी करके माता-पिता हमें पढ़ते है यह सभी भाई बहन समजते थे और उसका बड़ा भाई बास्केट बॉल चैम्पियन बना।



मिशेल पर उसके मम्मी ने बहुत ही अच्छे संस्कार दिए थे वे कहती है , '' पढ़ाई के साथ-साथ स्वतंत्र विचार करना चाहिए। मिशेल को अमेरिका के प्रतिष्ठित प्रिन्सटन महाविद्यालय में प्रवेश मिला।उसके बाद उन्होंने हार्वर्ड लॉ महाविद्याल में प्रवेश मिला और उन्होंने '' इंटलेक्चुअल '' इस विषय में पदवी प्राप्त किए। अश्वेतवर्णीय के प्रश्न पर मिशेल ने हार्वर्ड महाविद्यालय में निबंध लिखा था। उसके बाद उन्हें सॉलिसिटर फर्म में नौकरी मिली।कम्पनी में वकील के पद पर काम किए उसके बाद वे शिकागो हॉस्पिटल में अधिकारी बने वहा पर उन्हें 2 लाख 73 डॉलर का पैकेज मिला। इस फर्म के बारे मे  ओबामा कुछ पूछने के लिए आए थे और उनका परिचय हो गया बारक मिशेल को अच्छा लगने लगा, ओबामा का भाषण मिशेल को बहुत ही अच्छा लगा था कुछ दिनों के बाद वे एक दूसरे से प्यार करने लगे और शादी के लिए दोनों राजी हो गए।


ओबामा और मिशेल इनकी प्रथम मुलाखत गुरु-शिष्य के रूप में हुई थी। उसका परिवर्तन शादी में हुवा। 18 अक्टुम्बर 1992 में जेरीमेह राईट इनके उपस्थिति में ट्रिनिटी चर्च में ओबामा और मिशेल की शादी हुई।


ओबामा का जीवन भटकते हुए परिंदे की तरह था। लेकिन मिशेल आने के कारण उनका जीवन ख़ुशी से भर गया। मिशेल ने ओबामा के परिवार को अपना ही परिवार मान लिया था और वे दोनों हवाई द्वीप पर दादी मेंडलीन और बहन माया इनके साथ में ख्रिसमस का उत्सव मानते थे।

इस तरह से ओबामा का जीवन तीन नारियों के कारण अच्छा बना एक उसकी मम्मी उसने संस्कार और नेतृत्वगुण विकसित किए, दूसरी थी उसकी दादी उसने उसके पढ़ाई का पूरा खर्चा संभाला है, तीसरी है उसकी मिसेस. मिशेल अभी साथ में अपना जीवन प्यार से बिता रहे है।

हार्वर्ड लॉ रिव्ह्यु के अध्यक्ष पद पर ओबामा को बहुत ही प्रसिद्धि मिली। इस प्रसिद्धि के कारण एक प्रकाशन संस्था ने ओबामा को अपने वंश के अनुभव पर पुस्तक लिखना था। इसके लिए ओबामा को शिकागो विद्यापीठ ने स्कॉलरशिप दिए और पुस्तक लिखने के लिए एक साल का समय दिया गया।

बराक ओबामा ने 1995 में '' ड्रीम्स फ्रॉम माय फादर '' इस पुस्क्तक का निर्माण किया।

Share on Google Plus

About Blog Admin

He is CEO and Faunder of www.pravingyan.com He writes on this blog about Tech, Poems, Love story, General knowledge, Earn money, Helth tips, Great lord and motivational stories. He do share on this blog regularly.