(क्रिकेटर )मिताली राज की जीवनी / Biography of Mitali Raj (cricketer)

Biography of Mitali Raj (cricketer)
दोस्तों नमस्ते आज मै बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओं इस नारे के साथ इस लेख की सुरवात करने जा रहा हु। बेटी को लेकर किसी-किसी के ही घर में तान-तनाव,सास-बहु से झगड़ा करना, अपने पत्नी को मारना, ताने देना यह सभी बातें होती है। आज के तारीख में किसी-किसी के घर में लड़की का जन्म होना याने की घर की सुख शांति भंग होना। किसी के घर में लड़कियाँ है और लड़के नहीं है तो कुछ लोग अपने पत्नी से बराबर बात नहीं करते झगड़ा करते है, कुछ सास-ससुर अपने बहुसे नाराज रहते है। अपने परिवार में वंस का दिया चलाने के लिए कोई तो भी एक लड़का होना चाहिए इसलिए लड़कियों की बहुत ही घृणा करते है। याने की बेटी का जन्म होना पसंद ही नहीं करते है। जन्म से पहले ही बेटी को गर्भ में ही मार देते है। ऐसा करना गुना है।

• क्रिकेटर झुलन गोस्वामी की जीवनी
• क्रिकेटर कपिल देव की जीवनी
• क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की जीवनी


दोस्तों मै आपको इस लेख के बारे में बताने जा रहा हु की, अगर उसके माँ-बाप ने ऐसा ही गुना किया होता तो आज उस घर की बेटी ने अपना नाम विश्वविख्यात नहीं किया होता। लेकिन उस बेटी को घर में आने दिया और उसका लालन-पालन किया गया और आज पुरे विश्व में अपने देश का, अपना और अपने माँ-बाप का नाम इतिहास में दर्ज किया।


क्या? पता है, आज आप जिस बेटी की हत्या करते हो वह बेटी आनेवाले कल की एक क्रिकेटर हो सकती है, टीचर हो सकती है, एक gov. की अधिकारी बन सकती है और आपका नाम रोशन कर सकती है।

ऐसे ही एक महान बेटी की मै आपको जीवनी बताने जा रहा हु।

मिताली राज का परिचय / Introduction to Mithali Raj

Biography of Mthali raj

नाम : मिताली राज 

जन्म तारीख : 03 दिसंबर 1982 

जन्म स्थल :  जोधपुर ( राजस्थान )

पिताजी का नाम : दोराई राज 

माताजी का नाम : लीला राज 

भाई : मुथुन राज 



मिताली राज का पारिवारिक जीवन / Family life Mithali Raj

मिताली के पिताजी  दोराई राज इंडियन एयरफोर्स में विमान चालक है। ऐसे परिवार में 03 दिसंबर 1982 में महान क्रिकेटर मिताली राज का जन्म हुआ। मिताली राजने बचपन से ही क्लासिकल डांस सीखना चालू किया था। सीखते-सीखते मात्र 10 साल की उम्र में ही मिताली राज ने भरतनाट्यम को पूरा सिख लिया। और उसमे ही अपना करियर बनाने की सोचने लगी। लेकिन  उसके पिताजी ने उसे क्रिकेट की ट्रेनिंग देना चालू किया और उसका ध्यान क्रिकेट और डांस में दोन्हो में ध्यान देना बहुत ही कठिन हो गया था इसलिए उसके डांस अध्यापक ने उसे कोई भी एक चुनने को कहाँ और मिताली राज ने क्रिकेट चुना और अपना करियर क्रिकेट में बनाया। मिताली राज की मम्मी एक अधिकारी थे लेकिन अपनी बेटी के लिए उन्हों ने अपनी नौकरी छोटी ताकि मेरी बेटी खेल के घर में थकी आए और में उसकी सेवा करू, समय पर उसे खाना मिले।


मिताली राज की खास बातें  / The special things of Mithali Raj

➤मिताली राज भारतीय महिला क्रिकेट टीम की 12 साल से कप्तान है।  

➤ विश्व की दूसरी महिला खिलाडी वनडे क्रिकेट में 5500 रन बनाकर अपने देश का नाम पुरे विश्व में चमकाया है। 

➤ विश्व की पहली खिलाडी 7 बार अर्ध शतक बनानेवाली क्रिकेटर महिला खिलाडी है। 

➤ सन 1999 से अंतरराष्ट्रीय करियर को सुरवात की और आयरलैंड के खिलाप नाबाद 114 रनों की पारी खेली। 

➤ जनवरी 2002 में इंग्लैंड के साथ मैच में जीरो रन पर आउट हुई। लेकिन 3 टेस्ट में 214 रन बनाकर ऑस्ट्रेलिया के करेण रोल्टन का 209 रनों का रेकॉर्ड तोड़कर नया इतिहास रचा।  

➤ 2005 में टीम को फाइनल में एंट्री मिली लेकिन कुछ कारण मिताली राज फाइनल में खेल नहीं सकी।   

➤ मिताली राज ने अबतक 157 मैचों में 5029 रन, पांच शतक और 37 अर्ध शतक बनाया है।   

➤ 05 अगस्त 2006 को इंग्लैंड के साथ T 20  

➤ फरवरी 2017 में 5500 रन से ज्यादा रन 

➤ 10 टेस्ट, 180 ODI , और 63 T20  

➤ 2003 में  'अर्जुन पुरस्कार' से सन्मानित।

➤ मिताली राज भारत की प्रथम महिला खिलाडी है जिसे सन 2015 में '' Wisden Indian cricketer of the Year '' इस किताब से नवाजा गया है और  'पद्मश्री' से सन्मानित किया गया है।

यह भी जरुर पढ़े  


◼️ झूलन गोस्वामी की जीवनी
◼️ पुलिस भरती की जानकारी
Share on Google Plus

About Blog Admin

He is CEO and Faunder of www.pravingyan.com He writes on this blog about Tech, Poems, Love story, General knowledge, Earn money, Helth tips, Great lord and motivational stories. He do share on this blog regularly.