अंगूर की लस्सी कैसे बनाये ? | How to make grape lassi ?


अंगूर का पौधा बेल की रूप में रहता है। पत्तिया करेले के पत्तिया जैसी लेकिन बड़ी और रोमयुक्त रहती है। फल में 6-7 बीज रहते है। फूल हरे, सुगंधित और गुच्छ के जैसे रहते है। अंगूर को वसंत ऋतु में फूल आते है और गर्मी के मौसम में फल आते है। अंगूर पर संशोधन किया जा रहा है। अंगूर छोटे, बढे, मध्यम, बीजयुक्त, बिजहिन तथा हरे, नीले, लाल और काले आदि प्रजाति के पाए जाते है।
▪️ बादाम लस्सी कैसे बनाये ?
▪️ मीठी लस्सी कैसे बनाये ? 
▪️ संतरा लस्सी कैसे बनाये ?
How to make grape lassi ?

उत्तर पश्चिम बंगाल, पंजाब, बलूचिस्तान, अफगानिस्तान और कश्मीर, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश आदि ठिकाणो में अंगूर पाये जाते है। औरंगाबाद में होनेवाले अंगूर लाल और बहुत ही स्वादिष्ट रहते है। दौलताबाद के अंगूर दूसरे देश में भेजे जाते है।





▪️ सेब की लस्सी कैसे बनाये ?
▪️ अनानास की लस्सी कैसे बनाये ?
▪️ कुदरत का अनमोल उपहार 'शहद '

अंगूर के नाम | Grapefruit names

 मराठी 
 अंगूर ( गिला ), मनुका ( सुका ), बेदाना ( बड़ा सुका )
 संस्कृत 
 अंगूर, मृव्दिका, गोस्तनी 
 हिंदी 
 अंगूर, दाख, मुनक्का 
 गुजरती 
 दराख 
 बंगाली 
अंगूर  
 तमिल 
द्राक्षौ, कोडीमिंदिरिपझम, मुंडीरिंगाय  
 कन्नड़ 
 द्रक्षा 
 तेलगु 
 द्राक्षा, द्राक्षापन्डु 
 मल्यालम 
 मुंदिरिंगा, मुंदीिरडा  
 लैटिन 
 विटिस विनिफेरा 




 पोषण त्वत 
 मिनरल्स और विटामिन्स 

नमी - 92. 0 %
प्रोटीन - 0.7 %
वसा - 0.1 
मिनरल्स - 0.2 
कार्बोहाइड्रेड - 7.0 % 



कैल्शियम - 20 मि.ग्राम 
फास्फोरस - 20 मि.ग्राम 
आयरन - 0.2 मि.ग्राम 
विटामिन सी -31 मि. ग्राम 
बी कॉम्प ए पि - थोड़ी मात्रा 
कैलोरी - 32 

◾5 चमच चीनी 
◾1 कप दही 
◾इलायची पीसी हुई 
◾बादाम या पिस्ता के बारीक़ टुकड़े 

अंगूर की लस्सी बनाने का नुख्खा | Grapes recipe

5 चमच चीनी, 1 कप दही और 2 कप पानी डालकर मिक्सी मे मिश्रण बनाए। बादाम या पिस्ता के बारीक़ टुकड़े डालिए और उपर से चुटकी भर पिसी हुई इलायची पाउडर डालिए अब मीठी लस्सी तैयार है।

100 ग्राम बीज रहित अंगूर लीजिए। अंगूर को मिक्सी में पिस लीजिए और मीठी लस्सी के ग्लास में मिला लिजिये। अब आपके लिए मस्त स्वादिष्ट अंगूर की लस्सी  स्वादिष्ट तैयार है। 


यह भी जरूर पढ़े 

▪️ राजा गुलाब के बहुगुणी लाभ 
▪️ तुलसी के बहुगुणी लाभ
▪️ चंपा पुष्प के बहुगुणी लाभ
▪️ मोगरा पुष्प के बहुगुणी लाभ
▪️ गुड़हल पुष्प के बहुगुणी लाभ
▪️ कमल पुष्प के बहुगुणी लाभ
▪️ गेंदा पुष्प के बहुगुणी लाभ 
▪️ पारिजात वृक्ष के बहुगुणी लाभ 


• डॉ.सी.व्ही रामन की जीवनी  
• मदर तेरेसा की जीवनी
• डॉ. शुभ्रमण्यम चंद्रशेखर की जीवनी 
• डॉ.हरगोनिंद खुराना की जीवनी 
• डॉ.अमर्त्य सेन की जीवनी 
• डॉ.व्ही.एस.नायपॉल की जीवनी 
• डॉ.राजेंद्र कुमार पचौरी की जीवनी
• डॉ.व्यंकटरमन रामकृष्णन की जीवनी
 मदर टेरेसा की जीवनी
Share on Google Plus

About Blog Admin

He is CEO and Faunder of www.pravingyan.com He writes on this blog about Tech, Poems, Love story, General knowledge, Earn money, Helth tips, Great lord and motivational stories. He do share on this blog regularly.