आर.सी.एम.प्लान गीत | RCM PLAN SONG


दोस्तों नमस्ते, गुरुदेव आदरणीय मनोज दीक्षित सर जीने, आर.सी.एम.बिजनस में 'कविराज' के नाम से जानते है। उन्हों ने मुझे अपनी लिखित कविता को प्रकाशित करने का अवसर दिया है इसलिए मैं उनका सदैव आभारी रहूँगा। 


आर.सी.एम.प्लान गीत | RCM PLAN SONG

rcm company के सभी पिन अचीवर और डिस्ट्रीब्यूटर को निवेदन है की यह गीत अपने टीम में शेयर करे और RCM का संदेश पुरे विश्व में सुनाये 

न्यूट्रीचार्ज डीएचए ट्विस्ट की जानकारी 
न्यूट्रीचार्ज वेज ओमेगा की जानकारी

  आर.सी.एम.प्लान गीत | RCM PLAN SONG    


प्लान सुनाता आर.सी.एम का ध्यान से सुन लेना भाई 
जिन लोगों ने सुना प्लान को उनके घर में दौलत आई
प्लान सुनाता........  

जब जब करते काम हो कोई बदले में मिलता पैसा 
इस पैसे से खर्च चलते जिसके घर होता जैसा 
खर्च है यह मज़बूरी का, रोक न कोई पाया है 
इस ख़र्चे से आज तलक ना कोई पैसा आया है 
आज कहूँगा बात निराली जिसके लिए बुलाया है 
काम भी कोई अलग न करना यही बात है सुखदाई 
प्लान सुनाता ......

इस दुनिया में हर कोई मानव ग्राहक बनकर आता है 
जीवन भर रहता है ग्राहक ग्राहक बनकर जाता है
 काम के बदले मिले जो पैसा वह बाजार को जाता है 
फुटकर विक्रेता से मिलकर अपना काम चलाता है 
यह विक्रेता घर जिला में यह कहता है 
प्रान्त वितरक ऊपर बैठा जिसकी बड़ी बात भाई 
प्लान सुनाता ........

यह जाता निर्माता के घर जो निर्माण करता है 
जोखिम लागत के खर्चों का सारा बोझ उठता है 
जब जब यह सामान कम्पनी जो 50 में देती है 
आधा पैसा बचा बिच का जो यह लोग कमाते है 
विज्ञापन करने वाले भी बड़ा भाग ले  जाते है 
मची धांधली है बाजार में ग्राहक होता दुःखदाई 
प्लान सुनाता ........

निर्माता, निर्माण कराता उपयोगी उपयोग करे 
पांच पंच, परपंच बनाकर बैठे बैठे मौज करें 
पचों का प्रपंच मंच अब कभी न चलने पाएगा 
आर सी एम अब महामंच से निज सन्देश सुनाएगा 
बने बिचौली थे बाजार में उनको आज हटाया है 
इनकी महाबचत का पैसा ग्राहक घर भिजवाया है 
निर्माता ग्राहक के बिच की मिट गयी आज बड़ी खाई 
प्लान सुनाता ....

आर सी एम की निज परिभाषा को मई आज बताउँगा 
फैशन सूटिंग प्रावेट लिमिटेड का संवाद सुनाऊँगा 
सन 1977 ये कपडे के व्यापार में थी 
पैंट पीस के लाजवाब कपड़ों से यह बाजार में थी 
इसी घराने में एक अदभुत मानव में है जन्म लिया 
नाम तिलोक चंद जी जिनका जिन्होंने आविष्कार किया 
माह अगस्त सन 2000 को थी अनुपम बेला आई 
प्लान सुनाता ......



आर सी एम के जन्म महोत्सव की हुंकार लगाई थी 
संत छाबड़ा जी ने अकेले यह आवाज उठाई थी 
एक व्यक्ति का था सचालन कोटि कोटि संख्या आई 
एक पिकप सेंटर था इसका अब हो गयी हजारों में
 एक डिपो से हुए सैकड़ो चर्चा द्वारों द्वारों में  
एक भीलवाड़ा नगरी से पुरे भारत में छाई 
प्लान सुनाता .......

एक सामान पेंट के कपडे से हो गए सैकड़ों में 
क्षणिक समय की बात बंधुओं हो जायेंगे हजारों में 
भारत की आर्थिक मजबूती इन्कम टैक्स से होती है 
इनकम टैक्स पैड करने में नंबर वन हो जाती है 
यह थी आर सी एम परिभाषा जिसको मैंने गाया है
बिजनेस मैन बने सब कैसे आगे यह बतलाया है 
kyc फॉर्म को भरकर कार्ड स्वंय लो बनवाई 
प्लान सुनाता .....

पासपोर्ट साइज दो फोटो साथ में अपने लाना है 
ID फ्रूफ बैंक खाते की कॉपी भी ले आना है 
नाम, पिता, नॉमिनी बताकर फार्म भरना है 
ऐसा करके जब कोई अपना ग्राहक नंबर पाता है 
आर सी एम से उसी दिन से रिश्ता प्रगाढ़ हो जाता है 
वितरक नंबर मिल जाने से जीवन होता सुखदाई 
प्लान सुनाता .....  

मल्टीलेवल मार्केटिंग का जब नंबर मिल जाता है 
आठ फायदे फौरन मिलते हरजन खुश हो जाता है 
पहला है क्वालिटी युक्त सामान तुम्हें मिल जाने का 
बड़ा फायदा है सारा बाजार से सस्ता पाने का 
सब असली सामान मिलेगा आमदनी भी आयेगी 
आर सी एम के प्रोडक्टों की एजेंसी मिल जायेगी 
छठा फायदा सुलभ सुरक्षा आर सी एम से है पाई 
प्लान सुनाता ....




बिमा करने के अधिकारी आप यहां हो जाते है 
सम्मान फायदा उत्तम आप यहाँ पा जाते है
यह बतलाये 8 फायदे और बहुत कुछ है सारे 
इन्ही फायदों को पाकर के होंगे जान को प्यारे 
एक मिलेगा वितरक नंबर दूजा पासवर्ड मिलता 
दोनों नंबर मिल जाने से बिजनेस आर सी एम बनता 
यह बिजनेस जिससे मिलता है वह है सगा बड़ा भाई 
प्लान सुनाता .......

सर जी कहते है हम जिनके फार्म भरते है 
नाम पता नॉमिनी पूछकर साइन वह करवाते है 
ऐसा फार्म भरवा करके इंटरनेट पे जाते है
आर सी एम की वेबसाइट से मेरा नाम लिखाते है 
पुरे भारत के कम्प्यूटर मेरा नाम बताते है 
धन्य धन्य हो आर सी एम हम मन ही मन हर्षाते है 
दुनिया की अति उत्तम बिजनेस नेटवर्किंग है कहलाई 
प्लान सुनाता .....

यह सब होकर के जाते घर सर जी अकेले जाते है 
आर सी एम के उत्पादों से उनका भोग लगाते है
सर जी कहते है 'मनोज जी 'इसमें है अब क्या करना 
ध्यान लगाकर के समझोंगे पूरा होगा सब सपना 
इसमें केवल दो लोगों को जीवन भर में लाना है 
इसी तरह से उन लोगों को ऐसा ही सिखलाना है    
अप लाइन, डाउन लाइन यह प्राकृति व्यवस्था है भाई 
प्लान सुनाता ......

ज्वाइन होकर जब कोई प्राणी खुद बाजार को जाता है 
बिजनेस का 20 प्रतिशत हिस्सा फौरन मिल जाता है 
दैनिक मज़बूरी के कारण प्रथम बचत घर आती है  
शेष की साडी बचत बैंक के कहते पर दर्शाती है 
आपके द्वारा प्रबल संगठन लोगों का बन जाता है 
हजारों लाखों में पैसा जब निचे बंट जाता है 
लीडरशिप मिल जाती उस दिन शहनाई बज जाती है
प्लान सुनाता ......

सच्चे सेवक आर सी एम के उस दिन हम हो जाते है 
आर सी एम के सेवक जन में जब शामिल हो जाते है 
ऐसे निर्माणों के कारण रायल्टी पा जाते है 
लेखक, गायक, वैज्ञानिक को ही रायल्टी मिलती है 
आर सी एम में यह रायल्टी घर पर दस्तक देती है 
जिन्होंने पायी यह रायल्टी वह बिंदास हुआ भाई 
प्लान सुनाता ......

भारत के कोने कोने में अब तुम जाने जाओंगे 
आर सी एम की पिने विलक्षण धीरे धीरे पाओंगे 
धन दौलत इज्जत और शोहरत यहां सभी मिल जायेगा 
विश्व बंधु की प्रबल भावना से चेहरा खिल जायेगा 
भारत के हर घर का प्राणी जब ऎसा हो जायेगा 
कविता के माध्यम से प्लानिंग है 'मनोज' ने सुनवाई 
प्लान सुनाता आर सी एम का ध्यान से सुन लेना भाई 
जिन लोगों ने सुना प्लान को उनके घर दौलत आई 
प्लान सुनाता ......
  
रचनाकार :- मा.मनोज दीक्षित  

यह भी जरूर पढ़े 
 RCM Business की जानकारी अपने टीम में शेअर 
 करे और आर्थिक आझादी का अभियान सफल करे  
Share on Google Plus

About Blog Admin

He is CEO and Faunder of www.pravingyan.com He writes on this blog about Tech, Poems, Love story, General knowledge, Earn money, Helth tips, Great lord and motivational stories. He do share on this blog regularly.