आर.सी.एम गीत | RCM Song


आदरणीय गुरुदेव मनोज दीक्षित सर (कविराज) द्वारा लिखित आर.सी.एम गीत प्रस्तुत करने जा रहा हु यह गीत अपने टीम में शेयर जरूर कीजिए और RCM Business को जन-जन तक पहुँचाये। ... 


आर.सी.एम गीत | RCM Song

आर.सी.एम बाजारों से घर को सजाओंगे 
देख लेना कुछ दिन में घर स्वर्ग पाओगे
जब भी कोई भीलवाड़ा चलकर के जायेगा 
टी.सी.छाबड़ा जैसा संत दर्श पायेगा 
दिव्यता के दर्शन से झूम झूम जाओंगे।   
आर सी एम बाजारों .....

मरने पर स्वर्ग कल्पना साधु जन बताते है 
आर सी एम में ऐसी भावना रोज रोज पाते है 
देख लेना चंद साल में स्वर्ग हम बनाएंगे।  
आर.सी.एम बाजारों....

विश्व बंधु पर सेवा जीवन में लाओंगे 
होंगे सभी अपने तुम प्यार को लुटाओगे 
बनता जब कोई अपना दिल से मचल जाओगे। 
आर सी एम बाजारों ....    

आर सी एम में जन जन को रोजगा मिलता है 
कहता 'मनोज' सबसे बेशुमार मिलता है
 धैर्य करके देखोंगे दिव्य दृष्टि पाओगे। 
आर सी एम बाजारों ....... 


रचनाकार :- मनोज दीक्षित (कविराज)
यह भी जरूर पढ़े 
 RCM Business की जानकारी अपने टीम में शेअर 
 करे और आर्थिक आझादी का अभियान सफल करे  

Share on Google Plus

About Blog Admin

He is CEO and Faunder of www.pravingyan.com He writes on this blog about Tech, Poems, Love story, General knowledge, Earn money, Helth tips, Great lord and motivational stories. He do share on this blog regularly.