Tuesday, 21 February 2017

क्यू ? का Answer




Q ka Answer

क्यू  | kyoo ?

जिंदगी  मे हर क्यू का जवाब  ढूँढना बहुत आवश्यक है, क्यू की हर एक दिन मे हर इन्सान  को 60 हजार विचार आते है। अगर रोजमर्रा की जिंदगी के बारे मे सोचे तो उठने से लेकर सोने तक जो भी सवाल या परिस्थितिया हमारे सामने आती है।  उसे सुलझाने की कोशिश करते हुए आगे बढाना चाहिए। उलझण मे उलज़े तो पिछे ही पिछे जाएँगे।



हम घर मे बैठे है और अचानक हमारा  सिर दर्द  होने लगता  है। कभी सोचा क्यू? | We are sitting in the house and suddenly our head starts to feel pain. Ever thought Q ?

इसका जवाब यह है की,  हम रोज के 60 हजार विचारो मे बढ़ती करते है, इस वजहँ से भी हमारा सर दर्द  होता है। तो कभी हमारी कुच्छ वैयक्तिक परेशानियो से भी सर दर्द देता है।


क्यू की हम रिश्तो मे इस कदर उलझे है, की उनसे आशा रखना और आशा करने में ही व्यस्त है। जब हमारी आशा निराशा मे बदलती है, तब हम दुखी, उदास होते है।  इसलिए, खुश रहने का एक ही तरिका  है, किसी से आस और आशा भी मत रखना।



90% बच्चे गलत रास्ते पर क्यू जा रहे है ?  | Why are 90% children going on the wrong path?

आज की दुनिया का इतिहास देखते हुए इसका सही जवाब तो यही है की, मा-बाप के पास बच्चो के लिए समय का अभाव , समाज मे अपना '' स्टेटस '' उँचा दिखाने के लिए आज हर  कोई पैसो के पिछे दौड़ रा है, और अपना कीमती हीरा खो रहे  है।

बढ़ती महँगाई के साथ ''पैसा'' कमाना आवश्यक तो है ही, पर  जिन बच्चो के लिए कमा रहे है, उनके लिए समय नहि तो , ऐसे कमाई का क्या मतलब्? मा-बाप के प्यार के कमी  के कारण  आज के बच्चे गलत  रास्ते पे जा रहे  है।


हमारी सेहत् क्यू खाराब होती है ? Why deteriorate our health
? 

इसका एक जवाब यह है, की कोई जन्मतः ही कमजोर होते है और दूसरा जवाब  यह है की, हम जानबूझ के अपनी हालत बिघाडते है। क्यू की ह्म समय पे खाना नही खाते स्लिम होना हर किसिको पसंद है। पर इसके चक्कर मे शरीर अंदर से खोकला होते जाता है, यह हमें समय जाने के बाद पता चलता है।

◼️ भारत का राष्ट्रपति
Exam मे फैल क्यू होते है ? | aixam mein phel kyon hote hai ?

''क्यू की सालभर करते है, मस्ती और समय पे लेते है बुक सस्ती'' समय पे ही जाती है घर की बत्ती, इसलिए Examकेresult मे डूबती है हमारी कश्ती।

जिंदग़ि मे ऐसे बहूत ''क्यू'' है।लेकिन हर क्यू का जवाब इसी धरति पे है।ढूढ़ने से क्या नही  मिलता? इतिहास मे वही अजरामर हुए है जिन्होने हर क्यू का Ansuer ढूँढे है। सिर्फ़ खुद से और अपने काम से ही आशा रखते है। 

आप भी  अपने रोजमर्रा के क्यू को पहचानिए और उनको सुलझाकर आगे बढ़िए।यदि आप खुद क्यू का जवाब नही ढूँढ सकते तो अपनो से हुशार  लोगो की राय लीजिए और क्यूँ  की उलझन को सूलझाइये।

''Best of the Best for your Bright future''

यह भी जरुर पढ़े