Monday, 3 February 2020

रेडियोथेरेपी में बी.एससी कैसे करें- B.Sc in Radiotherapy

12 सायंस के बाद बीएससी रेडियोथेरेपी एंड मेडिकल इमेजिंग में (B.SC Radiotherapy and Medical Imaging) प्रवेश कैसे करें आइयें जानें.......  

अस्पतालों और स्वास्थ्य केंद्रों में रेडियोथेरेपी तकनीशियन विभाग में रोगियों के उपचार के संदर्भ में रेडियोथेरेपी तकनीशियन की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण है. विज्ञान विषय के साथ अध्ययन करना अस्पताल की आपातकालीन सेवाओं के बारे में जानकारी प्राप्त करना है, इसे पैरामेडिकल साइंस कहा जाता है और इस क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्ति को एक पैरामेडिक कहा जाता है जो उम्मीदवार पैरामेडिकल में कैरियर बनाना चाहते हैं, आप पैरामेडिकल विज्ञान में प्रवेश करके महान स्थिति प्राप्त कर सकते हैं. कुशल परामर्श विशेषज्ञों की बढ़ती मांग ने युवा उम्मीदवारों के लिए कैरियर के कई अवसर खोले हैं. 

यह भी पढ़े :
◾ 12 वीं के बाद एक्स रे तकनीक में डिफ्लोमा 
 B.A.S.L.P में 12 वीं के बाद भविष्य बनाएं 

B.Sc in Radiotherapy

मेडिकल रेडियोग्राफी और इमेजिंग टेक्नोलॉजी में बीएससी यह 3 साल का अंडरग्रेजुएट कोर्स है। औषधीय रेडियोग्राफी और इमेजिंग तकनीक, मानव शरीर के अंगों / अंगों की आंतरिक तस्वीरों और नैदानिक ​​उद्देश्यों के लिए आंतरिक क्षमताओं द्वारा शरीर की सामान्य शरीर रचना और शरीर विज्ञान की जांच करने के लिए इस्तेमाल की जाने वाली विधियां और प्रक्रियाएं.

पैरामेडिकल साइंस को एक तरह से मेडिकल साइंस का मूल माना जाता है. पैरामेडिकल साइंस कई विषयों के अंतर्गत आता है, जैसे कि स्पाइनल इंजरी मैनेजमेंट (Spinal Injury Management), संरचना प्रबंधन (Structure management), प्रसूति-विज्ञान (Obstetrics),बन्स और मूल्यांकन का प्रबंधन (Management of buns and assessment), सामान्य दुर्घटना दृश्य का मूल्यांकन (Evaluation of General Accident Scene) आदि. भारत ही नहीं बल्कि यूएसए, कनाडा जैसे देशों में भी कुशल पैरामेडिकल प्रोफेशनल्स की मांग है. यूके, यूएई पैरामेडिकल इंस्टीट्यूट पैरामेडिक्स में डिग्री-डिप्लोमा स्तर के पाठ्यक्रम प्रदान करता है, जिसमें पत्राचार या नियमित पाठ्यक्रम दोनों का विकल्प होता है. तो चलिए जानते है, 12 वीं साइंस के बाद B.SC में रेडियोथेरेपी और मेडिकल इमेजिंग के लिए क्या करें?(What to do for Radiotherapy and Medical Imaging in BSC after 12th Science?)




यह भी पढ़े :

रेडियोथेरेपी की परिभाषा | Definition of radiotherapy

स्वास्थ्य से संबंधित संगठन में रेडियोथेरेपी तकनीशियन का पद ग्रेड II स्तर का है.

विकिरण ऊर्जा द्वारा रोगों का उपचार जैसे एक्स-रे, रेडियम, रेडियोधर्मी पदार्थ और पराबैंगनी किरणें, विकिरण चिकित्सा या रेडियोथेरेपी, आरटी चिकित्सा, आरटीएक्स या एक्सआरटी, आयनित विकिरण का उपयोग करने वाली एक चिकित्सा है, घातक कोशिका, कैंसर उपचार आदि को नियंत्रित करना होता है. 

रेडियोथेरेपी तकनीशियन को यह सुनिश्चित करना है कि डॉक्टर द्वारा बताई गई रोगी की किसी भी रिपोर्ट को सही तकनीकों और उपकरणों के माध्यम से सही परीक्षणों के साथ निकाला जाए.

एक्स-रे, सीटी स्कैन, अल्ट्रासाउंड, एमआरआई आदि का उपयोग करके रोग का निदान किया जाता है, इसे मेडिकल इमेजिंग टेक्नोलॉजिस्ट कहा जाता है. 

कैंसर का उपचार विकिरण चिकित्सा से किया जाता है. इस थेरेपी की मदद से शरीर में कैंसर की कोशिकाओं और ट्यूमर को खत्म किया जाता है.

आज हम आपको रेडियोथेरेपी में बी.एससी कैसे करें (B.Sc in Radiotherapy) इस लेख के माध्यम से 12 वीं साइंस के बाद B.SC में रेडियोथेरेपी और मेडिकल इमेजिंग के लिए क्या करें? (What to do for Radiotherapy and Medical Imaging in BSC after 12th Science?)

रेडियोलॉजी तकनीशियन बनने का कोर्स | Course to become Radiology Technician

सर्टिफिकेट कोर्स से लेकर डिप्लोमा डिग्री और मास्टर्स तक के कोर्स उपलब्ध हैं.
  • रेडियोलॉजी में बीएससी (3 वर्ष)-(B.Sc in Radiology -3 years)
  • रेडियोग्राफी में प्रमाण पत्र (1 वर्ष)-(Certificate in Radiography -1 year)
  • एक्स-रे तकनीशियन में डिप्लोमा (1 वर्ष)-(Diploma in X-ray Technician -1 year)
  • रेडियोथेरेपी प्रौद्योगिकी में स्नातकोत्तर डिप्लोमा (2 वर्ष)- (PG Diploma in Radiotherapy Technology -2 years)
आदि कोर्स करके आप रेडियोलॉजी तकनीशियन बन सकते है.

रेडियोथेरेपी में बीएससी कैसे करें? के बारे में जानकारी पढ़ें.



यह भी पढ़े :

शैक्षणिक योग्यता-Educational Qualifications

  • भौतिकी, रसायन और जीव विज्ञान में 50% अंकों के साथ 12 वीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है. (12th pass with 50% marks in Physics, Chemistry, and Biology is required.)
  • कई प्रतिष्ठित संस्थान प्रवेश के लिए भी प्रवेश परीक्षा आयोजित करते हैं.(Many reputed institutes also conduct entrance exams for admission.)

कोर्स कालावधी-Course duration

  • 3 वर्ष   

B.Sc - रेडियोथेरेपी सिलेबस-B.Sc Radiotherapy Syllabus

पहला साल-First Year 
  • एनाटॉमी (Anatomy)
  • विकिरण खतरों और संरक्षण (Radiation Hazards and Protection)
  • विकृति विज्ञान (Pathology)
  • कंप्यूटर विज्ञान के मूल तत्व (Fundamentals of computer science)
  • शरीर क्रिया विज्ञान (Physiology)
  • संचार कौशल और व्यक्तित्व विकास (Communication Skills and Personality Development)
  • एक्स-रे की उत्पत्ति और गुण (Generation and Properties of X-Ray)
  • सामान्य रेडियोग्राफी (General Radiography)

द्वितीय वर्ष (Second year)
  • सामान्य रेडियोग्राफी 2 (General radiography 2)
  • संगठनात्मक व्यवहार (Organizational Behavior)
  • सीटी-स्कैन १ (CT-1 scan)
  • पर्यावरण विज्ञान (Environmental Science)
  • अल्ट्रासाउंड (Ultrasound)
  • एमआरआई 1 (MRI 1)

तीसरा वर्ष (Third year)
  • डॉपलर और इचोग्राफी (Doppler and Ichography)
  • डायग्नोस्टिक रेडियोलॉजी में एनेस्थीसिया (Anesthesia in diagnostic radiology)
  • एमआरआई - 2 (MRI - 2)
  • मानव संसाधन (human resource)
  • सीटी-स्कैन २ (Ct-scan2)
  • डायग्नोस्टिक रेडियोलॉजी में इंटरवेंशनल (Interventional in diagnostic radiology)
  • परमाणु चिकित्सा और पीईटी स्कैन (Nuclear Medicine and PET Scan)




कॉलेज फीस | College fees

  • कॉलेज के अनुसार निजी और सरकारी कॉलेज की फीस का भुगतान किया जाता है.

रोजगार की संभावनाएं | Job prospects

  • रेडियोलॉजी तकनीशियन
  • रेडियोलोकेशन करनेवाला
  • एमआरआई तकनीशियन
  • रेडियोलॉजी सहायक
  • रेडियोलॉजी टेक्नोलॉजिस्ट / रेडियोग्राफर
  • अल्ट्रासाउंड तकनीशियन / डायग्नोस्टिक मेडिकल सोनोग्राफर
  • रेडियोलॉजी नर्स
  • सीटी टेक / कैट स्कैन टेक्नोलॉजिस्ट / सीटी स्कैन टेक्नोलॉजिस्ट
  • रेडियोथेरेपी तकनीशियन का पद केंद्र और राज्य सरकार के स्वास्थ्य विभागों (जैसे एम्स, ईएसआईसी, आदि), 
  • स्वास्थ्य केंद्र, 
  • स्वास्थ्य से संबंधित सरकारी परियोजना
  •  रक्षा मंत्रालय के तहत स्वास्थ्य केंद्र, 
  • सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों आदि द्वारा संचालित अस्पताल 


Payscale | वेतनमान 

चिकित्स्कों की आय उनके पद, अनुभव के नुसार निर्धारित होती है. फिर भी कुछ पदों की मासिक आय की जानकारी देने जा रहे है, यह आय कम ज्यादा हो सकती है.
  • वरिष्ठ रेजिडेंट डॉक्टर को तीन वर्ष के अनुभव के आधार पर - 50,000 /- से 70,000 /- रु प्रतिमाह.
  • असिस्टेंट प्रोफ़ेसर - 80,000 /- (अधिक) रु.  
  • असोसिएट प्रोफेसर आठ वर्ष के अनुभव के आधार पर -70,000 /- . 
  • फिजियोथेरेपिस्ट (Physiotherapist) - 8,000 /- से 35, 000 /-. 
  • एक्स रे तकनीशियन (X-ray Technician) - 8,000 से 20, 000 /- .  
  • थेरेपी रेडियोग्राफर (Therapy radiographer)- 35, 000 /-,  50, 000 /-. 
  • विकिरण संरक्षण विशेषज्ञ (Radiation protection specialist) - 40,000 , 50, 000 /- 
  • क्लिनिकल रेडियोग्राफी (Clinical radiography)- 8000 /- से 22000 /-  

यूनिवर्सिटी | University
  • All India Institute of Medical Sciences New Delhi
  •  Rajiv Gandhi University of Health Sciences Bangalore
  • . University College of Medical Sciences and GTB Hospital Shahdara
  •  Tata Memorial Center Mumbai
  • TCR Institute for Materials Technology Mumba

यह भी पढ़े :

Postscript: अनुलेख
Post Name: रेडियोथेरेपी में बी.एससी कैसे करें? - B.Sc in Radiotherapy 
Description : रेडियोग्राफर नैदानिक ​​इमेजिंग विभाग, दुर्घटना और आपातकालीन, गहन देखभाल इकाई और ऑपरेटिंग थियेटर में हेल्थकेयर टीम के एक भाग के रूप में काम करते हैं. 
Author: अमित 
Tags : रेडियोथेरेपी में बी.एससी कैसे करें ? रेडियोथेरेपी में भविष्य कैसे बनाए ? रेडियोथेरेपी में करियर कैसे बनाएं ?