Career after 12th Science?:12 वीं साइंस के बाद करियर?


12 वीं विज्ञान के बाद क्या करना है, 12 वीं विज्ञान के बाद कौन सा कोर्स चुनना है, आदि छात्र प्रश्नों में उलझे रहते हैं. उन्हें कुछ खास समझ नहीं आ रहा है कि उन्हें 10 + 2 के बाद कौन सा कोर्स करना चाहिए.



Career after 12th Science?:12 वीं साइंस के बाद करियर?


विज्ञान के छात्रों के पास गैर-विज्ञान के छात्रों की तुलना में अधिक विकल्प हैं. विज्ञान के छात्र कला और मानविकी या वाणिज्य पाठ्यक्रम ले सकते हैं. लेकिन वाणिज्य और कला के छात्र विज्ञान से संबंधित पाठ्यक्रम नहीं ले सकते. वैसे, ज्यादातर लोग केवल 12 वीं विज्ञान के बाद इंजीनियरिंग और मेडिकल पाठ्यक्रमों के बारे में जानते हैं. लेकिन 12 वीं साइंस के बाद इंजीनियरिंग और मेडिकल कोर्स के अलावा भी कई विकल्प हैं.



12 वीं साइंस के बाद करियर कैसे बनाएं? (How to make a career after 12th science?), पीसीबी ग्रुप क्या है? (What is PCB group?), पीसीएम ग्रुप क्या है? (What is PCM Group?), आइयें जानें 12 वीं साइंस के बाद करियर? (Career after 12th Science?)

यह भी पढ़े :

किसी भी कोर्स का चुनाव करने से पहले उस कोर्स के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहिए. 12 वीं साइंस के बाद अमुक कोर्स को करके आप बेहतर करियर बना सकते हैं या नहीं, तमुक कोर्स का स्कोप कितना है, इस फील्ड जॉब से क्या हासिल किया जा सकता है, कोर्स की फीस आदि के बारे में जानकारी जुटाना बहुत जरूरी है.

12 वीं साइंस में तीन ग्रुप पीसीएम, पीसीबी और पीसीएमबी हैं. 10 + 2 को पूरा करने के बाद, छात्रों को भ्रम हो जाता है कि विज्ञान के बाद क्या करना है. क्योंकि इसके बाद कई कोर्स विकल्प उपलब्ध हैं.

करियर के लिहाज से सभी कोर्स अच्छे हैं, इसलिए छात्रों को समझ नहीं आ रहा है कि वे क्या करें. सभी पाठ्यक्रमों को समूह द्वारा विभाजित किया गया है और निम्नलिखित समूह के साथ लिखा गया है, जिसे समझना आपके लिए आसान होगा.



12 वीं विज्ञान (पीसीएम) के बाद पाठ्यक्रम विकल्प:Course choices after 12th Science (PCM) 

साइंस पीसीएम (फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथमेटिक्स) एक समूह है जो छात्रों के बीच बहुत लोकप्रिय है क्योंकि अधिकांश छात्र इस समूह से पढ़ना पसंद करते हैं यदि आपने विज्ञान में पीसीएम के साथ 12 वीं पूरी की है, तो आपको इसमें कई कोर्स मिलेंगे, क्योंकि मैथ्स ग्रुप से आप किसी भी क्षेत्र में जा सकते हैं, जो इसका सबसे बड़ा प्लस पॉइन्ड है. इस ग्रुप से Engineering की पढ़ाई ज्यादा की जाती है.
  • इंजीनियरिंग (बीटेक/बीई) (Engineering (B.Tech / B.E)
  • एयरोनॉटिकल इंजीनियरिंग (Aeronautical engineering)
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग  (Automobile engineering)
  • सिविल इंजीनियरिंग  (Civil Engineering)
  • इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग  (Electronics & Communication Engineering)
  • इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग  (Industrial engineering)
  • इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी  (Information technology)
  • इंस्ट्रूमेंटेशन एंड कंट्रोल इंजीनियरिंग  (Instrumentation and control engineering)
  • केमिकल इंजीनियरिंग  (chemical Engineering)
  • माइनिंग इंजीनियरिंग  (Mining engineering)
  • इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग  (Electrical and Electronics Engineering)
  • मरीन इंजीनियरिंग (Marine Engineering)
  • प्रिंट एंड मीडिया टेक्नॉलजी  (Print and media technology)
  • न्यूक्लियर इंजीनियरिंग  (Nuclear engineering)
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग  (Electrical engineering)
  • डेयरी टेक्नॉलजी  (Dairy Technology)
  • मकैनिकल इंजीनियरिंग  (Mechanical engineering)
  • आर्किटेक्चर  (Architecture)
  • कंप्यूटर ऐप्लिकेशन  (Computer application)
  • मर्चैंट नेवी  (Merchant navy)
  • नॉटिकल टेक्नॉलजी में बीएससी (BSc in Nautical Technology)
  • नेवल आर्किटेक्चर एंड शिप बिल्डिंग में बीटेक (B.Tech in Naval Architecture & Shipbuilding)
  • फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स, बायॉलजी, ऐस्ट्रोनॉमी, फॉरेंसिक साइंस, जियोलॉजी, ऐग्रिकल्चर, इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी, स्टैटिस्टिक्स, इंडस्ट्रियल केमिस्ट्री, फैशन टेक्नॉलजी, होम साइस, न्यूट्रिशन, क्लॉदिंग ऐंड टेक्सटाइल, एक्सटेंशन ऐंड कम्यूनिकेशन, नौटिकल साइंस, ह्यूमन डिवेलपमेंट ऐंड फैमिली स्टडीज, फैशन डिजाइन, इनवायरनमेंटल साइंस आदि में बीएससी  (Physics, Chemistry, Mathematics, Biology, Astronomy, Forensic Science, Geology, Agriculture, Information Technology, Statistics, Industrial Chemistry, Fashion Technology, Home Science, Nutrition, Clothing and Textiles, Extension and Communication, Nautical Science, Human Development Study BSc in Fashion Design, Environmental Science, etc.)
  • कमर्शल पायलट  (Commercial pilot)
  • डिफेंस  (Defense)
  • एविएशन साइंस में बीएससी  (BSc in Aviation Science)


12 वीं विज्ञान (पीसीबी) के बाद पाठ्यक्रम:Syllabus after 12th Science (PCB)

अपने 12 वीं विज्ञान पीसीबी (भौतिकी, रसायन विज्ञान और जीव विज्ञान) को पूरा करने के बाद, उनके लिए एक बेहतर कैरियर बनाने के अवसर हैं, क्योंकि यह एक ऐसा समूह है जिसमें छात्रों को कई और कोर्स करने के अवसर मिलते हैं. इस समूह के छात्र बिना किसी समस्या के किसी भी पाठ्यक्रम और विषयों में जा सकते हैं.

इस समूह के अधिकांश छात्र चिकित्सा में जाना पसंद करते हैं क्योंकि चिकित्सा क्षेत्र में बहुत अधिक कैरियर और विकल्प है. चिकित्सा के अलावा, कई पाठ्यक्रम हैं जिनमें कैरियर के विकल्प उपलब्ध हैं.
  • एमबीबीएस (MBBS)
  • बीडीएस-डेंटिस्ट्री (Bds-dentistry)
  • बीएएमएस-आयुर्वेद (BAMS-Ayurveda)
  • बीएचएमएस-होम्योपैथी (BHMS-Homeopathy)
  • बीयूएमएस-यूनानी (BUMS-Greek)
  • बीएनवाईएस-नेचुरोपैथी ऐंड योगिक साइंस (BNYS-Naturopathy & Yogic Science)
  • बीएसएमएस-सिद्ध मेडिसिन ऐंड साइंस (BSMS-Siddha Medicine and Science)
  • वेटरिनरी साइंस ऐंड ऐनिमल हस्बैंड्री (Veterinary Science and Animal Husbandry)
  • फिजियोथेरापी (Physiotherapy)
  • बीएससी ऑक्युपेशनल थेरापिस्ट (BSC Occupational Therapist)
  • बीएससी न्यूट्रिशन ऐंड डायटीटिक्स (BSC Nutrition and Dietetics)
  • इंटेग्रेटिड एमएससी (Integrated M.Sc.)
  • बीएससी-बायॉटेक्नॉलजी (BSC-Biotechnology)
  • बीएससी (डेयरी टेक्नॉलजी/नर्सिंग/रेडियॉलजी/प्रॉसथेटिक्स ऐंड ऑर्थोटिक्स, ऑप्टोमेट्री) (BSC (Dairy Technology / Nursing / Radiology / Prosthetics and Orthotics, Optometry))
  • बीएसी स्पीच ऐंड लैंग्वेज पैथोलॉजी (BAC Speech and Language Pathology)
  • बीएससी ऐंथ्रोपोलॉजी (BSC Anthropology)
  • बीएससी रेडियोग्राफी (BSC Radiography)
  • बीएससी रिहैबिलिटेशन थेरापी (BSC Rehabilitation Therapy)
  • बीएससी फूड टेक्नॉलजी (BSC Food Technology)
  • बीएससी हॉर्टिकल्चर (BSC Horticulture)
  • बीएससी होम साइंस/फॉरेंसिक साइंस (BSC Home Science / Forensic Science)
  • बैचलर ऑफ फार्मेसी (Bachelor of Pharmacy)
  • बीएमएलटी (मेडिकल लैब टेक्नॉलजी) (BMLT (Medical Lab Technology))
  • बीओटी (ऑक्यूपेशनल थेरापी) (Bot (Occupational Therapy))


12 वीं साइंस के बाद बिजनेस और कॉमर्स कोर्स: Business and Commerce course after 12th Science

निम्नलिखित वित्तीय और व्यवसाय में रुचि रखने वाले अधिक छात्रों के लिए पाठ्यक्रम है, और इस पाठ्यक्रम को चुनकर अपना करियर बना सकते हैं.
  • बीकॉम (B.Com)
  • होटल मैनेजमेंट में बीए (BA in Hotel Management)
  • रिटेल मैनेजमेंट में बीए (BA in Retail Management)
  • रिटेल मैनेजमेंट में बीए (BA in Retail Management)
  •  होटल मैनेजमेंट में बीएससी (BSc in Hotel Management)
  • फैशन मर्कैंडाइजिंग और मार्केटिंग में बीए (BA in Fashion Merchandising and Marketing)
  • ट्रैवल और टूरिजम मैनेजमेंट में बीए (BA in Travel and Tourism Management)
  • बैचलर ऑफ बिजनस इकनॉमिक्स (Bachelor of Business Economics)
  • बैचलर ऑफ इंटरनैशनल बिजनस ऐंड फाइनैंस (Bachelor of International Business and Finance)
  • मैनेजमेंट स्टडीज (management Studies)
  • बैचलर ऑफ बिजनस ऐडमिनिस्ट्रेशन (Bachelor of Business Administration)
  • बैंकिंग ऐंड इंश्योरेंस (Banking and insurance)
  • चार्टर्ड अकाउंटेंसी (Chartered Accountancy)
  • कंपनी सेक्रटरी (Company secretary)

यह भी पढ़े :



12वीं साइंस के बाद डिप्लोमा कोर्स : Diploma Course after 12th Science

यदि आप लंबे समय तक अध्ययन नहीं करना चाहते हैं, तो आप एक छोटी अवधि का कोर्स करके अपना करियर बना सकते हैं, ऐसे कई डिप्लोमा कोर्स उपलब्ध हैं जिनसे आप अच्छी नौकरी और अच्छा वेतन प्राप्त कर सकते हैं.

डिप्लोमा कोर्स के कई फायदे हैं, यह फीस और समय दोनों को कम करता है और छात्रों के बीच इसकी मांग धीरे-धीरे बढ़ रही है और यह सही भी है कि आप आर्थिक स्थिति को देखते हुए इस डिप्लोमा कोर्स को कर सकते हैं.

आइए हम आपको कुछ बेहतरीन पाठ्यक्रमों से परिचित कराते हैं, जिनकी आज बहुत मांग है, यदि आप विज्ञान के छात्र हैं, तो यह आवश्यक नहीं है कि आप केवल विशेष पाठ्यक्रम ही करेंगे. आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आप डिप्लोमा कोर्स के साथ पढ़ाई जारी रख सकते हैं.
  • न्यूट्रिशन ऐंड डायटिटिक्स में डिप्लोमा (Diploma in Nutrition and Dietetics)
  • नर्सिंग में डिप्लोमा (Diploma in nursing)
  • टेक्सटाइल डिजाइनिंग में डिप्लोमा (Diploma in Textile Designing)
  • कंप्यूटर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा (Diploma in Computer Engineering)
  • वेब डिजाइनिंग में डिप्लोमा (Diploma in web designing)
  • फैशन डिजाइनिंग में डिप्लोमा (Diploma in Fashion Designing)
  • सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा (Diploma in Civil Engineering)
  • इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी में डिप्लोमा (Diploma in Information Technology)
  • ड्रॉइंग और पेंटिंग में डिप्लोमा (Diploma in Drawing and Painting)
  • ड्रेस डिजाइनिंग में डिप्लोमा (Diploma in Dress Designing)
  • कंप्यूटर हार्डवेयर में डिप्लोमा (Diploma in Computer Hardware)
  • एनिमेशन एवं मल्टीमीडिया में डिप्लोमा (Diploma in Animation & Multimedia)
  • डिप्लोमा (एयर होस्टेस, क्रू) (Diploma (Air Hostess, Crew))
  • इवेंट मैनेजमेंट में डिप्लोमा (Diploma in Event Management)
  • केमिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा (Diploma in Chemical Engineering)
  • सॉफ्टवेयर और नेटवर्किंग में डिप्लोमा (Diploma in Software and Networking)
  • फॉरेन लैंग्वेज में डिप्लोमा (Diploma in a foreign language)

यह भी पढ़े :

Postscript: अनुलेख

Post Name: 12 वीं साइंस के बाद करियर? (Career after 12th Science?)

Description :  12 वीं के बाद छात्रों के जीवन में एक महत्वपूर्ण चरण होता है. 12 वीं के बाद लिया गया कोर्स भविष्य में उनके करियर की नींव है. इसलिए, छात्रों के लिए महत्वपूर्ण कैरियर विकल्पों का ज्ञान होना आवश्यक है. 12 वीं के बाद विज्ञान और वाणिज्य के बाद कई करियर विकल्प हैं.

Author: अमित 

Tags: Career after 12th Science?PCMPCBDiploma Course.

Share on Google Plus

About Blog Admin

He is CEO and Faunder of www.pravingyan.com He writes on this blog about Tech, Poems, Love story, General knowledge, Earn money, Helth tips, Great lord and motivational stories. He do share on this blog regularly.