MCA me bhavishya kaise banaye:एमसीए में भविष्य कैसे बनाएं?


एमसीए क्या है?(mca kya hai?), एमसीए कैसे करें?(mca kaise karen?), एमसीए में करियर कैसे बनाएं?(mca me career kaise banaye?) आइयें जाने एमसीए में भविष्य कैसे बनाएं? (MCA me bhavishya kaise banaye) Degree

MCA पाठ्यक्रम मुख्य रूप से कंप्यूटर प्रोग्रामिंग भाषाओं के अपडेट के लिए कंप्यूटर एप्लिकेशन बनाने या विकसित करने के बारे में अध्यन किया जाता है. इसके अलावा, उन्नत अनुप्रयोगों के लिए बेहतर उपकरणों के विकास के बारे में जानकारी भी प्रदान की जाती है. यह तीन साल का कोर्स है और इसमें छह सेमेस्टर होते हैं. M.C.A छात्र किसी भी बड़ी या छोटी IT कंपनी में सिस्टम डेवलपर (System developer), सॉफ्टवेयर प्रोग्रामर (Software programmer), सॉफ्टवेयर डेवलपर (Software developer), सिस्टम एनालिस्ट (System analyst), सॉफ्टवेयर कंसल्टेंट (Software consultant) के पद पर काम कर सकते है.



Conference
यह भी पढ़े :

एमसीए की परिभाषा : Definition of M. C. A

 
M.C.A का अर्थ Master of Computer Applications है. यह कोर्स B.C.A (Bachelor of Computer Application) के बाद किया जाता है. M.C.A पाठ्यक्रम में, आपको सिखाया जाता है कि कंप्यूटर-एप्लिकेशन कैसे बनाएं, और एप्लिकेशन को अच्छी तरह से कैसे विकसित करें, एप्लिकेशन कैसे डिज़ाइन करें, आदि. यदि आप कंप्यूटर क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो M.C.A कोर्स आपके लिए एक अच्छा विकल्प है. एमसीए पाठ्यक्रम लेने के बाद, आपको आईटी कंपनी में सबसे अच्छी स्थिति में नौकरी और बहुत अधिक वेतन मिलने की संभावना है.

एमसीए एक प्रकार से आईटी (सूचना और प्रौद्योगीक़ ) उद्योग में योग्य पेशेवरों की कमी को पूरा करने के लिए एमसीए प्रोग्राम डिजाइन किया गया है. एमसीए प्रोग्राम सूचना प्रौद्योगीकी से संबंधित किसी भी क्षेत्र में सिस्टिम विश्लेषक, सिस्टिम डिजाइनर और प्रबंधक के पद पर नौकरी मिल सकती है.  

MCA एक प्रकार का मास्टर प्रोग्राम है जिसे IT (सूचना और प्रौद्योगिकी-Information and technology) उद्योग में योग्य पेशेवरों की कमी को पूरा करने के लिए बनाया गया है. MCA कार्यक्रम सूचना प्रौद्योगिकी से संबंधित किसी भी क्षेत्र में, आप एक सिस्टम विश्लेषक (systems Analyst), सिस्टम डिजाइनर (System design) और प्रबंधक के रूप में नौकरी प्राप्त कर सकते हैं.


शैक्षणिक योग्यता : Educational Qualifications

  • मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से कला, विज्ञान, वाणिज्य, इंजीनियरिंग, B.C.A अथवा B.sc आईटी क्षेत्र में स्नातक स्तर की पढ़ाई करनेवाले छात्र MCA में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते है. 
  • 12th में मैथ और कंप्यूटर से संबंधित अध्यन और स्नातक में 50 % (एससी/एसटी 45 %) अंक के साथ उत्तीर्ण होना चाहिए. 
  • All India MCA Common Entrance Test
  • c, cc++, java, Net, ASP.net पर अच्छी कमांड होना चाहिए. 
  • वेब डिजाइनिग क्षेत्र के लिए PHP, CSS, HTML, javascript आदि भाषाओं का ज्ञान होना चाहिए.
  • नेटवर्किंग क्षेत्र के लिए SQL, LINUX  आदि का नॉलेज होना चाहिए.  

Loans
समय सीमा : Time period
  • 3 वर्ष 

फीस: Fees
  • सरकारी कॉलेज में MCA फीस 35, 000/- से 45. 000 /- कम अधिक हो सकती है. 
  • निजी कॉलेज में MCA की फीस 50, 000 /- से 75 000 /- कम अधिक हो सकती है.  


MCA में विशेषज्ञता : Specializing in MCA

छात्र निम्लिखित क्षेत्र का चुनाव करके MCA कर सकते है. 
  • सिस्टम प्रबंधन (Systems Management)
  • सिस्टम डेवलपमेंट (Systems Development)
  • हार्डवेयर प्रौद्योगिकी (Hardware Technology)
  • प्रणाली अभियांत्रिकी (Systems Engineering)
  • सॉफ्टवेयर विकास (Software Development)
  • इंटरनेट (Internet)
  • प्रबंधन सूचना प्रणाली (एमआईएस) (Management Information Systems) (MIS)
  • नेटवर्किंग (Networking)
  • अनुप्रयोग प्रक्रिया सामग्री (Application Software) 
  • समस्या निवारण (Troubleshooting) 
Mortgage

एमसीए सिलेबस : M.C.A Syllabus

MCA में कुल 6 सेमेस्टर होते हैं. जो निम्नलिखित है. 


प्रथम सेमिस्टर : First semester
  • कंप्यूटर विज्ञान के गणितीय फाउंडेशन (Mathematical Foundation of Computer Science)
  • लेखा और वित्तीय प्रबंधन (Accounting and Financial Management)
  • कंप्यूटर संगठन (Computer and ‘C’ Programming)
  • कंप्यूटर और ‘C 'प्रोग्रामिंग (Paradigms of Programming)
  • प्रोग्रामिंग के प्रतिमान (Computer Organization)
  • UNIX और शैल प्रोग्रामिंग (UNIX & Shell Programming) 
  • सामान्य प्रवीणता (General Proficiency)
  • संगठन लैब (Organization Lab)
  • यूनिक्स / लिनक्स और शैल प्रोग्रामिंग लैब (Unix /Linux & Shell Programming Lab)
  • प्रोग्रामिंग लैब (Programming Lab)


द्वितीय सेमेस्टर : Second semester 
  • संगठनात्मक संरचना और कार्मिक प्रबंधन (Organizational Structure and Personnel Management)
  • डेटा और फ़ाइल संरचना 'C' का उपयोग करना (Data and File Structure Using ‘C’)
  • C ++ में Object-Oriented Systems (Object-Oriented Systems in C++)
  • कंप्यूटर आधारित संख्यात्मक और सांख्यिकीय तकनीक (Computer-Based Numerical & Statistical Techniques)
  • संयुक्त और ग्राफ सिद्धांत (Combinatory & Graph Theory)
  • कंप्यूटर वास्तुकला और माइक्रोप्रोसेसर (Computer Architecture & Microprocessor)
  • डाटा स्ट्रक्चर लैब (Data Structure Lab)
  • सी ++ लैब (C++ Lab)
  • सामान्य कुशलता (General proficiency)
  • माइक्रोप्रोसेसर लैब (Microprocessor Lab)

तीसरा सेमेस्टर : Third semester
  • कंप्यूटर नेटवर्क (Computer Networks)
  • एल्गोरिथम का डिज़ाइन और विश्लेषण(Design & Analysis of Algorithm)
  • ऑपरेटिंग सिस्टम (Operating System)
  • डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली (Database Management System)
  • इंटरनेट और जावा प्रोग्रामिंग (Internet & JAVA Programming)
  • सिस्टम प्रोग्रामिंग (System Programming)
  • DBMS लैब (DBMS Lab)
  • जावा लैब (JAVA Lab)
  • DAA लैब (DAA Lab)
  • सामान्य प्रवीणता (General Proficiency)

चौथा सेमेस्टर: Fourth semester 
  • मूल दृश्य (Visual Basic)
  • मॉडलिंग और सिमुलेशन (Modeling and Simulation)
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग (Software Engineering)
  • वैकल्पिक I (निम्नलिखित में से कोई एक) (Elective I (any one of the following)
  • ई-कॉमर्स का फाउंडेशन (Foundation of e-Commerce)
  • कंप्यूटर ग्राफिक्स और एनीमेशन (Computer Graphics & Animation)
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग लैब (Software Engineering Lab)
  • सामान्य प्रवीणता (General Proficiency)
  • कंप्यूटर ग्राफिक्स लैब (Computer Graphics Lab)
  • विजुअल बेसिक लैब (Visual Basic Lab)


पांचवां सेमेस्टर : Fifth semester
  • ऐच्छिक (निम्नलिखित में से कोई एक)) वेब प्रौद्योगिकी (WEB Technology)
  • वैकल्पिक II) निम्नलिखित में से कोई एक (Elective II (any one of the following)
  • नेट फ्रेमवर्क और सी (Net FrameWork & C)
  • ईआरपी सिस्टम(ERP System)
  • ईआरपी सिस्टम(Elective III (any one of the following)
  • प्रबंधन सूचना प्रणाली (Management Information System)
  • (वेब टेक्नोलॉजी लैब) (WEB Technology Lab)
  • (नेट फ्रेमवर्क और सी-लैब) (Net FrameWork & C-Lab)
  • (वार्तालाप) (Colloquium)
  • (सामान्य प्रवीणता)(General Proficiency)

छह सेमेस्टर : Six semester
  • Industrial project (द्योगिक परियोजना)


एमसीए करने के बाद : Benefits of doing MCA 

MCA कोर्स  करने के बाद आपको सॉफ्टवेयर कंपनी सरकारी एजेंसी / नेटवर्किंग कंपनी बैंकिंग डेटाबेस मैनेजमेंट में नौकरी मिल जाएगी. 


जॉब /करियर: Job / Career
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर (software engineer)
  • सॉफ्टवेयर डेवलपर (Software developer)
  • टीम लीडर, आईटी (Team Leader, IT)
  • प्रोजेक्ट मैनेजर (Project Manager)
  • प्रणाली विश्लेषक (system analyst)
  • सॉफ्टवेयर तैयार करने वाला (Software developer)
  • सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन आर्किटेक्ट (Software Application Architect)
  • सॉफ्टवेयर डेवलपर (Software Developer)
  • सॉफ्टवेयर प्रकाशक (Software Publisher)
  • परियोजना का मुखिया (Project Leader)
  • कंप्यूटर वैज्ञानिक (Computer Scientist)
  • जूनियर प्रोग्रामर (Junior Programmer)
  • सिस्टम प्रशासक (Systems Administrator)
  • डेटाबेस व्यवस्थापक (Database Administrator)
  • कंप्यूटर सिस्टम विश्लेषक (Computer Systems Analyst)
  • मुख्य सूचना अधिकारी (Chief Information Officer)
  • सूचना प्रणाली प्रबंधक (Information Systems Manager)
  • सॉफ्टवेयर इंजीनियर या प्रोग्रामर (Software Engineer or Programmer)
  • कंप्यूटर प्रस्तुति विशेषज्ञ (Computer Presentation Specialist)
  • वाणिज्यिक और औद्योगिक डिजाइनर (Commercial & Industrial Designer)
  • विप्रो (Wipro)
  • इन्फोसिस (Infosys)
  • इन्फोटेक (Infotech)
  • सत्यम महिंद्रा (Satyam Mahindra)
  • आई.बी.एम. (IBM)
  •  हसीएल (HCL)
  • टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (Tata Consultancy Services)
  • एक्सेंचर (Accenture)
  • कैपजेमिनी (Capgemini)
  • कॉग्निजेंट (Cognizant)

कॉलेज: College
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, रुड़की
  • बंगाल इंजीनियरिंग एंड साइंस यूनिवर्सिटी (बीईएसयू), कोलकाता
  • डिपार्टमेंट ऑफ़ कंप्यूटर साइंस, बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू)
  • इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, दिल्ली
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलोजी, दिल्ली
  • सिम्बायोसिस इंस्टिट्यूट ऑफ कम्प्यूटर स्टडीज एंड रिसर्च (एसआईसीएसआर), पुणे
  • गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर
  • आंध्र यूनिवर्सिटी
  • कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी
  • कोच्चि यूनिवर्सिटी
  • बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, झांसी
  • एमजेपी रुहेलखंड यूनिवर्सिटी, बरेली
  • यूनिवर्सिटी ऑफ हैदराबाद
  • मोतीलाल नेहरू इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद
 
यह भी पढ़े :