b.tech me career kaise banaye?: बी.टेक में करियर कैसे बनाएं?


बी.टेक कैसे करे? (b.tech kaise kare?) बी.टेक क्या है ? (b.tech kya hai?) बी.टेक इंजीनियरिंग क्या है? (b. tech engineering kya hai?) आइयें जानें बी टेक में करियर कैसे बनाएं? (b.tech me career kaise banaye?)

नमस्ते, आज का टॉफीक है. B.Tech में करियर कैसे बनाये? अगर आपका सपना इंजीनियर बनने का है, तो आप B.Tech करके इंजीनियर बन सकते हैं. इसके लिए बीटेक कोर्स , शैक्षणिक योग्यता, फीस, अवधि और प्रवेश आदि के बारे में जानकारी होना चाहिए तो, चलिए जानते है बी.टेक के बारे में आगे की जानकारी.


बीटेक में डिग्री प्राप्त करने के लिए एक विषय का चुनाव करना पड़ता है. तभी आप इंजीनियर बन सकते है.बीटेक में एडमिशन आप सरकारी अथवा प्राइवेट कॉलेज से कर सकते है. यदि आप एंट्रेंस एग्जाम में पास होते है तो आपको सरकारी कॉलेज मिल सकती है. लेकिन आपको कम अंक प्राप्त होते है तो आपको प्राइवेट कॉलेज में एडमिशन लेना पड़ सकता है. प्राइवेट कॉलेज की फ़ीस अधिक रहती है. आप किस क्षेत्र में बीटेक करना चाहते है उस पर फीस रहती है. आपको बीटेक में करियर बनाना है तो आप एंट्रेंस एग्जाम फेस कीजिए ताकि आपको सबसे बेस्ट कॉलेज मिले और आप इंजीनियर की दुनिया में अपना आशयाना बनाएँ. 


बि टेक की परिभाषा : Definition of B.Tech 


बी टेक का फुलफॉर्म: (बैचलर ऑफ टेक्नोलॉजी-Bachelor of technology) है. B.Tech चार साल का कोर्स है, इस कोर्स को पूरा करने के बाद आप इंजीनियर की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं. आप साइंस में 12 वीं पास कर के बीटेक में प्रवेश के लिए आवेदन कर सकते हैं. बीटेक में इंजीनियरिंग करने के लिए, आपको किसी एक क्षेत्र का चुनाव करना होगा और उस विषय में अध्ययन करना होगा. उसके बाद आप B.Tech की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं. इस के अलावा भी एक कोर्स कर सकते है जिसका नाम इंजीनियरिंग स्नातक (Bachelor of engineering) अर्थात B. E करके भी आप इंजीनियरिंग में नास्ताक हो सकते है. 

अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (All India Council for Technical Education) एआईसीटीई (AICTE) के द्वारा प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में स्नातक की उपादि दी जाती है, इंजीनियरिंग/ प्रौद्योगिकी, फार्मेसी, वास्‍तुशिल्‍प, होटल प्रबंधन और केटरिंग प्रौद्योगिकी, प्रबंध अध्‍ययन, कम्‍प्‍यूटर एप्‍लीकेशन और अनुपयुक्‍त कला और शिल्‍प शामिल हैं. एआईसीटीई (AICTE) का मुख्‍याल नई दिल्‍ली में है और इसके 7 क्षेत्रीय कार्यालय कोलकाता, चेन्‍नई, कानपुर, मुंबई, चंडीगढ़, भोपाल और बंगलौर में स्थित हैं.



बी टेक कोर्स के क्षेत्र :B.Tech Course Area


बी टेक में आपको निम्नलिखित क्षेत्र में से एक क्षेत्र का चुनाव करके बीटेक में इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त कर सकते है. 

  • B.tech in CS Engineering 
  • B.tech in Aerospace Engineering     
  • B.tech in Ceramic Engineering
  • B.tech in Mechanical Engineering
  • B.tech in Chemical Engineering
  • B.tech in Civil Engineering
  • B.tech in Electrical Engineering
  • B.tech in Metallurgical Engineering
  • B.tech in Petroleum Engineering
  • B.tech in Instrumentation Engineering
  • B.tech in Electronic Engineering
  • B.tech in Automobile Engineering
  • B.tech in Biochemistry Engineering
  • B.tech in Communication Engineering
  • B.tech in Construction. Engineering
  • B.tech in Environmental Engineering
  • B.tech in Power Engineering
  • B.tech in Telecommunication Engineering
  • B.tech in Production Engineering
  • B.tech in Industrial Engineering
  • B.tech in Marine Engineering

यह भी पढ़े : 

शैक्षणिक योग्यता : Educational Qualifications


  • भौतिक विज्ञान (Physics), रसायन विज्ञान (Chemistry) और गणित (maths) विषय के साथ 12th  में 60 % अंक के साथ पास होना चाहिए.


प्रवेश परीक्षा : entrance examination


बीटेक में एडमिशन करने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम फेस करना है. कुछ प्राइवेट कॉलेज बिना एंट्रेंस एग्जाम के ही एडमिशन देते है. लेकिन हमें अपना करियर बनाना है तो एंट्रेंस एग्जाम देकर सबसे अच्छे कॉलेज का चुनाव करके बीटेक में एडमिशन करना चाहिए. निम्नलिखित एंट्रेंस एग्जाम देकर आप बीटेक में एडमिशन ले सकते है. 

  • JEE Main- Joint Entrance Examination यह एग्जाम  वर्ष में दो बार National Testing Agency (NTA) द्वारा आयोजित की जाती है. 
  • JEE Advanced - JEE Advanced यह एग्जाम राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा है. साल में एक बार जोनल आईआईटी के Joint Admission Board (JAB) के द्वारा आयोजित की जाती है. 
  • VITEEE- Vellore Institute of Technology Engineering Entrance Exam यह वर्ष में एक बार होती है. 
  • MHTCET- Maharashtra Common Entrance Test यह महाराष्ट्र की राज्य स्तर की परीक्षा है. 
  • TS EAMCET - Telangana State Council of Higher Education जवाहरलाल नेहरू प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय हैदराबाद की ओर से तेलंगाना स्टेट काउंसिल ऑफ हायर एजुकेशन द्वारा इंजीनियरिंग, कृषि और मेडिकल कॉमन एंट्रेंस टेस्ट आयोजित किया जाता है.
  • UPSEE  - Uttar Pradesh State Entrance Examination  यह एग्जाम डॉ.ए.पी.जे.अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय उत्तर प्रदेश, लखनऊ द्वारा आयोजित की जाती है.

 यह भी पढ़े :


फीस: Fees

  • सरकारी कॉलेज में आपका नंबर लगता है तो आपको चार लाख के करीब खर्चा आ सकता है. 
  • यदि प्राइवेट कॉलेज में नंबर लगता है तो कम से कम छे लाख के आसपास आ सकता है. 
  

बीटेक करने के फायदे : Benefits of doing B.Tech

  • आप सरकारी या प्राइवेट जॉब आसानी से कर सकते है. 
  • IES की एग्जाम देने के लिए तैयार हो जाते है. 
  • असिस्टेंट इंजीनियर के पद पर कार्य कर सकते है.
  • बीटेक करने के बाद आप एम टेक (M.tech.) कर सकते है.


जॉब / करियर: Job / Career 

  • सीएस इंजीनियर (CS Engineer)
  • यांत्रिकी अभियंता (Mechanical Engineer)
  • सिविल अभियंता (Civil Engineer)
  • ऑटोमोबाइल इंजीनियर(Automobile Engineer)
  • रासायनिक इंजीनियर (Chemical Engineer)
  • विद्युत इंजीनियर (Electrical Engineer)
  • इलेक्ट्रॉनिक्स अभियंता (Electronics Engineer)
  • समुद्री इंजीनियर (Marine Engineer)
  • एयरोस्पेस इंजीनियर (Aerospace Engineer)
  • निर्माण इंजीनियर (Construction Engineer)
  • उत्पादन अभियंता (Production Engineer)
  • सॉफ्टवेयर डेवलपर (Software Developer)
  • व्याख्याता / प्रोफेसर (Lecturer/Professor)
  • उत्पादन प्रबंधक (Production Manager)
  • सिरेमिक इंजीनियर (Ceramic Engineer)


बीटेक की तैयारी कैसे करें?: How to prepare for BTech?

हमें अपने बच्चों को क्या बनाना है इसका निर्णय पहली क्लास से ही लेना चाहिए अर्थात हमें अपने बच्चों को उस तरह की शिक्षा प्रदान करना चाहिए जिस तरह हम उन्हें बनाना चाहते है. बीटेक करने के लिए हमें अपने बच्चों के तरफ 8 वि क्लास से ध्यान देना चाहिए. उनको 8 वि क्लास से सेमी साइंस (Semi science) में एडमिशन करवा के देना चाहिए. 10th के बाद 11वीं साइंस क्षेत्र में भौतिक विज्ञान (Physics), रसायन विज्ञान (Chemistry) और गणित (maths) विषय के साथ एडमिशन करना चाहिए. 11वीं और 12 वीं क्लास में अच्छे अंक प्राप्त करें. PhysicsChemistry और maths विषयों का  11वीं  और 12वीं क्लास में अच्छे से अध्ययन करें क्यों की एंट्रेंस एग्जाम में इन विषयों के आधार पर प्रश्न पुछे जाते है. इस तरह से बीटेक की तैयारी कीजिए और अपना करियर बनाइए. 

यह भी पढ़े :